मानसून का नया नजारा, दिल्ली-एनसीआर सहित इन राज्यों में अब होगी झमाझम बारिश : OmTimes

नई दिल्ली (ऊँ टाइम्स)  मौसम विभाग के मुताबिक वर्तमान में बने मौसमी सिस्टम के कारण 9 जुलाई से दक्षिण और पूर्व मध्य भारत में मानसून अपने तेवर दिखाएगा, यानी कर्नाटक, तेलंगाना, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार, छत्तसीगढ़, असम, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय में बारिश होगी। वहीं, 10 जुलाई से उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में मानसून के फिर से सक्रिय होने की संभावना है। इस दौरान दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, गुजरात, हिमाचल, उत्तराखंड में झमाझम बारिश देखने को मिल सकती है।
बंगाल की खाड़ी में बन रहा दबाव क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में बनने वाले दबाव क्षेत्र और मानसून के आगे बढ़ने की वजह से 10 जुलाई के बाद उत्तर पश्चिम भारत में व्यापक वर्षा होने की संभावना है। वहीं, 11 और 12 जुलाई को जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद और पंजाब में भी भारी बारिश की संभावना है। उत्तराखंड और पश्चिम उत्तर प्रदेश में 9 जुलाई से 14 जुलाई के बीच भारी बारिश का अनुमान व्यक्त किया गया है। उत्तराखंड में 11 और 12 जुलाई को भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। इसके लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।
मौसम विभाग के मुताबिक हिमाचल प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में 10 जुलाई से 14 जुलाई तक भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा पूर्वी उत्तर प्रदेश में 09 से 10 जुलाई के दौरान बारिश का अनुमान है. सप्ताह के अधिकांश दिनों के दौरान मध्य और आस-पास के पूर्वी भारत (मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़ और ओडिशा) में अलग-अलग इलाकों में व्यापक रूप से बारिश होने की संभावना है। अरब सागर से पश्चिमी तट तक फैले दक्षिण-पश्चिम मानसूनी हवाओं के मजबूत होने और ट्रफ के बनने की संभावना के कारण सप्ताह के अधिकांश दिनों में 09 से 12 जुलाई के दौरान महाराष्ट्र और गोवा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और केरल में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। वहीं, 13 और 14 जुलाई को कोंकण और गोवा में अलग-अलग जगहों पर अत्यधिक भारी वर्षा होगी, ऐसा अनुमान है।
हालांकि, 9 जुलाई से पूर्वोत्तर भारत यानी अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में वर्षा की तीव्रता और वितरण में कमी आने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक 15 से 22 जुलाई के बीच देश के अधिकांश हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के सक्रिय रहने की संभावना है। इससे उत्तर पश्चिम भारत, मध्य-पूर्वी भारत और दक्षिण प्रायद्वीप के मैदानी इलाकों में भारी बारिश की संभावना है।
स्काईमेट वेदर के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान, तटीय कर्नाटक, कोंकण और गोवा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों, विदर्भ, मराठवाड़ा, छत्तीसगढ़, पूर्वी मध्य प्रदेश, हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।
उत्तर पूर्व भारत, बिहार के कुछ हिस्सों, झारखंड, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, महाराष्ट्र के बाकी हिस्सों, मध्य प्रदेश के पश्चिमी हिस्से, पूर्वी राजस्थान, पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा, दिल्ली और बाकी पश्चिमी हिमालय में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। आंतरिक तमिलनाडु, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा, लक्षद्वीप और दक्षिण गुजरात में हल्की बारिश की संभावना है।

लेखक: OM TIMES News Paper India

omtimes news paper (Regd. & App. by- Govt. of India ) प्रकाशक एवं प्रधान सम्पादक रामदेव द्विवेदी 📲 9453706435 , 🇮🇳

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s